Ram Gayo


राम गयो,रावण गयो,
गयो रे कृष्ण अवतार।
राम गयो,रावण गयो,
गयो रे कृष्ण अवतार।।
प्रभू नाम के सेवन से ही,
दूर होते हैं सभी पाप।।।

राम-नाम को जप लो रे भईया,
कयों करते हो अभिमान।
राम-नाम को जप लो रे भईया,
कयों करते हो अभिमान।।
कुछ न जाएगा संग तुमारे,
हे!मुर्ख ईन्सान।।।

राम गयो रावण गयो,
गयो रे राम अवतार।
राम गयो रावण गयो,
गयो रे राम अवतार।।
भगवन नाम जपलो रे भईया,
पूर्ण होंगे सभी कार्य।।।

राम नाम तुम जप लो,
ओ!बन्धु मेरे यार।
राम नाम तुम जप लो,
ओ!बन्धु मेरे यार।
प्रभु नाम के सेवन से ही,
तुम होगे मृत्यु के पार।।।

राम तुमारा भला करे,
बन जाएँ सब बिगडे काज।।
इस भक्ति मे तुम भी डूबो,
"विनय" विनय करता है आज।।।

बच्चपन मे खेलते रहे,
जवानी मे लाखों काम।
बच्चपन मे खेलते रहे,
जवानी मे लाखों काम।
बुढ़ापे मे तो तुम रे जपलो,
श्री विष्णु का नाम।।।

भगवन् नाम को तुम रे जप लो,
जप लो! सीया राम।
भगवन् नाम को तुम रे जप लो,
जप लो! सीया राम।।
दुनियादारी छोड कर अब तुम,
अपना लो भक्ति का धाम।।।

सुबह ऊठो राम नाम लो,
फ़िर लो रात को सोने पर।
सुबह ऊठो राम नाम लो,
फ़िर लो रात को सोने पर।।
राम का नाम न छोडना तुम रे,
मृत्यु के भी आ जाने पर।।।

© All Rights Reserved Pushkarna Brothers




© Viney Pushkarna

pandit@writeme.com

www.fb.com/writerpandit